What Is Captcha Code In Hindi – Captcha Code क्या है – Ttechnews

आज हम आपको Captcha Code In Hindi के बारे में बात करेंगे। जानते ही होंगे की Captcha क्या है। इस बात को लेकर आप और कई लोग काफी परेशान हुवे होंगे।

आपने कई बार new website में लॉगिन और किसी ब्लॉग में कमेंट किया होगा तब आपको ऐसे कुछ टेढ़े मेढ़े alphabets और नंबर डालना पड़ा होगा।

कई बार captcha डालते समय lower case L और number 1 , Upper case O और number 0 में बहुत सारी गलतिया कर बैठते है।

कई लोग घंटो तक Captcha Code को सॉल्व करते रहते है लेकिन वह बहुत कोशिश करने के बाद भी नाकामियाब रहते है और वह परेशान हो जाते है। कई लोग यह सोचते है की यह alphabets को सीधे क्यों नहीं होते जिसकी वजह से यूजर को कोई परेशानी न हो।

यह समस्या को ध्यानमे रखकर आज आपके लिए में article Captcha kya hota Hai ? और What is Captcha Code in Hindi के बारे में हम सुनी और  अनसुनी बातो के बारे में जानेंगे।

Captcha Code क्या है – ( what is captcha code in Hindi )

आपके मनमे यह सवाल आएगा की Captcha क्या होता है तो आप भी जान लो की यह एक Security Check की तरफ काम करता है और जिसको सॉल्व करना एक मशीन के लिए संभव नहीं है। इसकी मदद से Spams और Unauthorized Access को कुछ सिमा तक रोक सकते है।

Captcha Code In Hindi

Captcha Code या CAPTCHAs इस तरह के tools है जिसकी मदद से हम इसका अंतर जान सकते है की कौन सही यूजर है और कौन automated users है। अगर आप जनता चाहते है की CAPTCHA का full form – Complete Automated Public Turing Test To Tell Computers and Human Apart होता है।

कैप्चा को साल 2000 में Luis Von Ahn, Manuel Blum, Nicholas Hopper और John Langford के द्वारा इस दुनिया में लाया गया था। और यह  Carnegie Mellon University के प्रोफ़ेसर थे। यह ऐसी technique है जिसकी मदद से मनुष्य और मशीन के बिच का फर्क पता कर सके।

Captcha Code का content generate करने के मुख्य दो तरीके –

  • प्रथम Captcha Code खुद submit कर सकते है।
  • दूसरा automatically code generate कर सकते है।

Captcha Code का हम इस्तमाल क्यु करते हैं –

  1. Captcha Code का उपयोग आमतौर पर security measure के लिए करते है जिसको इंसान ही इसका सही इस्तेमाल कर सकता है। इसका इस्तेमाल मशीन , रोबोट या bots इस सिक्युरिटी को नहीं पहचान सकती।
  2. इसको इसलिए ऐसा बनाया गया है की hackers और spammers इसका आसानी से इस्तेमाल न कर सके। hackers के लिए restricted areas से  crawl  कर पाना मुश्किल है नहीं तो यह वह जाकर password भी चुरा सकते है।
  3. अपोक बताये की Captcha Code को generate करने के लिए वह इमेज में text और नंबर को डालने के बाद वह इमेज को विकृत किया जाता है। यह इसलिए की वह text को अन्य कोई OCR Technology  पहचान न सके। इसको सिर्फ इंसान ही पढ़कर समज सकता है।
  4. अबतब के समय में दुनिया में Captcha Code solving Algorithm अभीभी नहीं बना है।
  5. अगर किसी ब्लॉगर किसी भी सिक्युरिटी measure Captcha का इस्तेमाल नहीं करेगा तो हररोज उसको हजारो की संख्या में Spam Mails और messages आएंगे और यह हम बहुत ही छोटे ब्लॉग और वेबसाइट की बात कर रहे है।
  6. अगर आपका ब्लॉग या वेबसाइट ज्यादा फेमस होगी तो तो सोचिये क्या हाल होंगे। आप Captcha Code के इस्तेमाल से आपके ब्लॉग और वेबसाइट को hackers और spammers से सुरक्षित रख सकते है।

CAPTCHA ka full form kya Hai? –

कई बार लोग यह सर्च करते है की कैप्चा का फूल फॉर्म क्या है ? आपको यह बता दे की CAPTCHA – Complete Automated Public Turing Test To Tell Computers and Human Apart कहा जाता है।

How to Solve Captcha Code in Hindi  –

क्या आपको पता है Captcha Code को सॉल्व करना कितना मुश्किल है। कैप्चा को सॉल्व करने से पहले आपको हम कुछ कहना चाहते है की कैप्चा कोड का एक डेटाबेज होता है और बहुत सारे इमेज और कैरेक्टर होते है।

इसे पढ़ेcomputer Kya Hai 

जब कैप्चा कोड को रिकवेस्ट करते है तब उसका Algorithm randomly एक puzzle तैयार होता है। और यूजर का टाइप किया हुवा कोड मैच हो जाता है तो उस वेबसाइट को इंटर कर सकते है और आपका कोड मैच नहीं हुवा तो एक नया puzzle आ जाता है इस तरह से यह सिलसिला चलता ही रहता है।

कैप्चा के प्रकार – Types of Captcha

आपने कई प्रकार के Captcha Code का इस्तेमाल किया होगा। ढेर सारे Captcha Code होने का मतलब यह होता है की आपकी जिस प्रकार की website होगी उस तरह का कैप्चा होगा। अब हम कई सारे कैप्चा कोड के बारे में जानते है की कितने प्रकार के होते है।

  1. Text recognition based :

Text recognition based में puzzle आता है वह सभी text based होते हैं। इस प्रकार के कैप्चा में यूजर को कोड को पहले जानना पड़ता है इसके बाद website को इंटर कर सकते है।

  1. Image recognition based :

इस प्रकार के कैप्चा के puzzle में सभी Image based होते है। इसमें यूजर को कोड को जानने के लिए वह इमेज को बहोत बारीकी से पहचानना पड़ता है। और इसके बाद ही वह website को एंटर कर सकते है।

3.Social Authentication/ Friend Recognition :

इस तरह के कैप्चा कस इस्तेमाल ज्यादातर Social Media Website में होता है। इसमें puzzle होता है वह सभी Friends Profile Photo based होते है जिसको यूजर कोड को जानने के लिए profile picture ध्यान से देखना पड़ता है। इसके बाद ही वेबसाइट में इसका इस्तेमाल कर सकते है।

  1. Logic questions based :

इसमें puzzle होता है वह सभी logic question based होते है। जिसके इस्तेमाल में यूजर कोड को पहचानने के लिए पूछे हुवे सवाल का जवाब देना पड़ता है। इसके बाद ही यूजर इसका इस्तेमाल वेबसाइट मे कर सकता है।

  1. User interaction based :

User interaction based में puzzle होता है वह सभी Interaction based question आते है जिसमे यूजर को कोड को पहचानने के लिए सवाल का जवाब देना पड़ता है और यहाँ interaction से जुड़े सवाल पूछे जाते है इसके बाद ही वेबसाइट में इंटर कर पाते है।

Captcha Code के फायदे –

दुनिया में Captcha Code की  implementation हुवा है तब से इसका उपयोग अधिक बढ़ गया है। यह एक ऐसा प्रोग्राम है जिसका हमारे वेबसाइट और ब्लॉग को हैकर्स और स्पेमर्स से सुरक्षित रखता है। यह सिक्युरिटी सिस्टम से काफी फायदा होते है और यह bots के पक्ष में शामिल नहीं है। तो चलिए हम जानते है Captcha Code के फायदों के बारे में …

  • Blog के comments spam को रोकना।
  • website के registration को सुरक्षित रखना।
  • ईमेल अड्रेस को ईमेल स्क्रैपर्स से सुरक्षित रखना।
  • ऑनलाइन मतदान create करना।
  • वेबसाइट को dictionary के हमले से सुरक्षित।
  • वेबसाइट को bots से सुरक्षित।
  • Spammers से वेबसाइट को सुरक्षित रखना।

निष्कर्ष –

वर्तमान समय में आपको पता है की कैप्चा का इस्तेमाल कितना किया जाता है इसलिए आपको मेने इस आर्टिकल की मदद से captcha code in Hindi के बारे में बताया और कई सारी चीजे समझाई और Captcha Code क्या है ? इसके बारे में बताया और कैप्चा के प्रकार और फायदों के बारे में बताया।

हमें उम्मीद है की आपको मेरा यह लेख आपको पसंद आया होगा। आपको इस आर्टिकल से जुड़े किसी भी प्रश्न है तो हमें कमेंट बॉक्स में कहे और अपने दोस्तों के साथ यह लेख शेयर जरूर करे। धन्यवाद।

Leave a Comment

error: Content is protected !!