Technical SEO Kya Hai? इसकी मदद से Website Rank Kise Karaye?

हेलो दोस्तों आज हम Technical SEO Kya Hai इस के बारे में बात करने वाले है. On Page Or Off Page SEO के बारेमे आपको पता होगा पर Technical SEOके बारे में बहुत कम लोग जानते होंगे .

On-Page और Off-page SEO करना जितना जरुरी है उससे पहले टेक्निकल Search Engine Optimization करना बहुत जरुरी है. अगर टेक्निकल seo नहीं करोगे तो साइट कभी भी रैंक नहीं करेगी और on page और off page का कोई महत्व नहीं रहेगा.

अब हम विस्तार से बात करेंगे की Technical SEO Kya Hai और कैसे किया जाता है. तो चलिए अब आगे बढ़ते है.

Technical SEO Kya Hai?

Technical SEO भी एक तरह का SEO प्रोसेस ही है, जिसकी मदद से हम अपने आर्टिकल या अपनी वेबसाइट को गूगल के टॉप पेज पर रैंक करा सकते हैं। या फिर यूं कहें कि हम Technical SEO करके अपने किसी भी आर्टिकल को गूगल सर्च इंजन में टॉप रैंक पर ला सकते हैं।

यह एक तरह का Search Engine Optimization प्रोसेस होता है, जिसके अंतर्गत काफी सारे फैक्टर मौजूद होते हैं, और इन सभी फैक्टर्स को मैनेज करना ही Technical SEO कहलाता है।

वेबसाईट के अंदर जो कंटेंट डाला गया है, इसकी रीडेबिलिटी improve करने के लिए ज्यादा जोर दिया जाता है। अगर हम इसे अपनी साधारण भाषा में समझे तो हम से कह सकते हैं, कि हमें टेक्निकल SEO करते समय अपने आर्टिकल या कंटेंट को इतना ज्यादा यूजर फ्रेंडली, मोबाइल फ्रेंडली बनाना पड़ता है,जिससे की वह गुगल में टॉप रैंक पर आ जाए।

Technical SEO Kya Hai

इसी के साथ साथ इस बात का भी ध्यान रखा जाता है, कि जब कोई यूजर वेबसाइट पर क्लिक करके कंटेंट को खोलने की कोशिश करता है, तो वह कितनी जल्दी ओपन हो जाती है। technical SEO करने में sitemap submission, URL, site architecture, Coding, links, indexing और crawling आदि सभी फैक्टर होते है और इन सभी चीजों को अच्छे तरीके से मैनेज करना ही technical SEO कहलाता है।

इसी के साथ वेबसाइट की security , वेबसाइट को responsive और अपने आर्टिकल या कंटेंट को पूरी तरीके से SEO फ्रैंडली बनाना होता है। हम इसमें अच्छी क्वालिटी की backlinks की मदद से भी अपने आर्टिकल का technical SEO कर सकते है। टेक्निकल करने के काफी सारे फायदे हैं इसकी मदद से हम ज्यादा से ज्यादा न्यू यूजर तक पहुंच सकते हैं और अपनी वेबसाइट को बहुत जल्दी ग्रो कर सकते हैं।

Technical SEO को कैसे किया जाता है?

Technical SEO करने के लिए आपको काफी सारी चीजों को मेंटेन करना होगा उसी के बाद ही आप अपनी वेबसाइट का अच्छी तरीके से टेक्नीकल SEO सकते हैं और गूगल पेज पर टॉप रैंक पर अपनी वेबसाइट या आर्टीकल को ला पाओगे, इसके लिए आपको टेक्नीकल SEO से रिलेटिड कुछ फैक्टर्स को मैनेज करना होगा , तो चलिए जानते है कि क्या है वो फैक्टर्स!

1.) Domain and Hosting :

सबसे पहले आपको ध्यान रखना होगा कि जब आप वेबसाइट बना लेते हैं डोमेन और होस्टिंग लेते समय आपको डोमिन का ध्यान रखना होगा, क्योंकि Domain name जितना अच्छा होता है हमारी वेबसाइट उतनी ज्यादा ग्रो होती है,हमारा Domain name जितना ज्यादा सिंपल होगा उतना ही ज्यादा यूजर फ्रेंडली होगा.

होस्टिंग की मदद से हमारी वेबसाइट के लोडिंग टाइम पर फर्क पड़ता है, हमारी होस्टिंग जितनी अच्छी होगी वेबसाइट का कंटेंट इतनी जल्दी लोड होगा और यूजर फ्रेंडली होगा जो की Technical SEO के नजरिए से काफी अहम माना जाता है।

2.) Secure website:

हम आपको बता दें, कि जब आप अपनी वेबसाइट बनाते हैं उसके पर नहीं पड़ता कि आप अपनी वेबसाइट को WordPress पर बनाते हैं या ब्लॉगर पर बनाते हैं, लेकिन जहां कहीं भी आप वेबसाइट बना लेते हैं, तो उसके बाद आपको ध्यान देना है, कि आप अपनी वेबसाइट पर SSL activation करना जरूरी होता है, जिसके बाद आपकी वेबसाइट सिक्योर हो जाती है। और ये यूजर की विश्वस्त पर भी प्रभाव डालता है।

3.) Remove negative backlink:

कभी कभी खराब Backlinks भी हमारी वेबसाइट या हमारे कंटेंट को टेक्निकल होने में रुकावट उत्पन्न कर देती है, जिसके लिए हमें अपनी खराब और लो क्वालिटी की backlinks को हटाना होगा.

4.) Fix 404 page error:

इसके लिए हमें अपनी वेबसाइट के अंतर्गत जितने भी 404 error से रिलेटेड वेबसाइट या कंटेंट है, हमें उनको रीडायरेक्शन की मदद से अपने दूसरे आर्टिकल से जोड़ना होगा , जिसकी मदद से यूजर हमारी वेबसाइट या हमारे कंटेंट पर ज्यादा देर तक रुक पायेगा।

5.) Loading time:

साथ ही आपको इस बात का भी ध्यान रखना है, कि जब आप कोई भी आर्टिकल अपनी वेबसाइट पर डालते है तो आपको उसका लोडिंग टाइम कम करना हिगाज़ इसके लिए आप कंटेंट ने डाली गई इमेज के साइज को कम कर सकते हैं या कंप्रेस करके लगा सकते है।

6.) Robots.txt optimization:

Robots.txt की मदद से आप अपनी वेबसाइट को गूगल में index कर सकते हैं, इसी के साथ यह आपकी वेबसाइट में मौजूद सभी आर्टिकल को Crawler करने में भी मदद करता है।

7.) URL structure:

आप इस बात का भी ध्यान रखें, कि आपके कंटेंट का यूआरएल लिंक ( Permalink ) जितना छोटा और सिंपल होगा तो आपका आर्टिकल उतना ज्यादा Technical SEO फ्रेंडली होगा.

8.) http/https Domain name :

इसी के साथ साथ आपको बताते चलें कि 2 महीने में दो तरह के होते हैं एक http:// के साथ और दूसरा https:// के साथ और इन दोनो में से https की security ज्यादा अच्छी होती है इसलिए अगर आपकी वेबसाइट http है तो आप उसको https में स्विच कर लीजिए।

9.) Mobile friendly:

आज के समय में अधिकतर व्यक्ति अपने मोबाइल में ही सभी प्रकार के आर्टिकल न्यूज़ को पढ़ना पसंद करता है, ऐसे बहुत ही कम व्यक्ति होंगे जो कि लैपटॉप या desktop पर किसी भी चीज को ब्राउजर, गूगल करते होगे।

इसलिए अगर आप अपने कंटेंट को ज्यादा से ज्यादा यूजर्स तक पहुंचाना चाहते हैं, तो आपको अपने आर्टिकल को Mobile friendly बनाना होगा, जो कि Technical SEO का सबसे महत्वपूर्ण हिस्सा माना जाता है।

आज हमने जाना की Technical SEO Kya Hai?

उम्मीद है, कि आपको ऊपर दिए गए ब्लॉक से सभी प्रकार की जानकारी मिल चुकी होगी, जैसे कि Technical SEO क्या है? और इस `का हमारी वेबसाइट पर क्या फर्क पड़ता है? Technical SEO को कैसे किया जाता है?Technical SEO करने में कौन-कौन से फैक्टर मौजूद होते हैं?

यदि आप ऐसे ही और भी आर्टिकल्स को जानना चाहते हैं तो बने रहिए हमारे ब्लॉक के साथ! यदि आप टेक्नीकल SEO से सम्बंधित किसी भी प्रकार का अपना सुझाव देना चाहते हैं तो आप नीचे कमेंट कर बता सकते हैं।

2 thoughts on “Technical SEO Kya Hai? इसकी मदद से Website Rank Kise Karaye?”

Leave a Comment

error: Content is protected !!