Internet In Hindi – Internet क्या है – ये कैसे काम करता है?

Internet In Hindi – 29 अक्टूबर ये वो दिन था जिस दिन दुनिया बदल गयी क्योंकि इस दिन Internet नामक क्रांति ने जन्म लिया था, और समूचे विश्व को बदल कर रख दिया था। Internet एक संचार का बहुत ही तीर्व और सुरक्षित माध्यम माना जाता है.

इस बात को ध्यान में रखते हुए वैश्विक महा शक्ति यूनाइटेड स्टेट ऑफ़ अमेरिका ने संचार का एक ऐसा माध्यम बनाना चाहती थी जिससे किसी भी गुप्त अथवा सामान्य सन्देश को तीर्व एवं गुप्त प्रकार से प्रेषित किया जा सके. अमेरिका की इस दूरदर्शी सोच ने विश्व को Internet नाम की शक्तिशाली टेक्नोलॉजी दी। तो चलिए दोस्तों यह जानना जरूरी बहुत जरूरी है कि INTERNET क्या है, और ये कैसे काम करता है.

इंटरनेट क्या है – ( What Is Internet In Hindi )

Internet Communication का एक बहुत सरल और दक्ष माध्यम होता है.जिसने काफी लोकप्रियता अर्जित की है.आधुनिक युग में हम किसी भी कार्य की कल्पना Internet के बिना नहीं कर सकते है।

Internet के माध्यम से लाखो व्यक्ति ,सुचना ,विचारो ,Sound ,Videos ,Images आदि को Computer के माधयम से एक दूसरे के साथ शेयर कर सकते है।

Internet In Hindi

इंटरनेट एक इंग्लिश भाषा का शब्द है जोकि Internet के शब्द "Interconnected" शब्द से लिया गया है, हिंदी में जिसका अर्थ होता अंतरजाल।

Internet एक दूसरे से जुड़े कई Computer का जाल होता है ,जोकि Router और Server के माध्यम से एक Computer को दूसरे Computer से जोड़ता है।

इंटरनेट के प्रकार (Types Of Internet)

Internet एक सार्वजानिक Network होता जिसका उपयोग कोई भी किसी भी स्थान से सहजता पूर्वक कर सकता है. इसको उपयोग करने के लिए केवल व्यक्ति विशेष के पास Data एवं उपयोग करने हेतु Device की आवश्यकता होती है जैसे,

  • Mobile
  • Laptop
  • Computer

बहुत कम ही लोग Internet के प्रकार जानते है. जो की कुछ इस प्रकार के होते है , इनके सामन्य रूप और प्रकारो को टेक्निकल भाषा में Intranet एवं Extranet कहा जाता है.

Mobile Internet:- Telephone Service Provider जैसे की जिओ,आईडिया वोडाफोन ,एयरटेल उपभोक्ता तक इंटरनेट की सुविधा पहुँचाने के लिए इंटरनेट के लिए प्लान देते है. जिसको उपभोक्ता अपने इच्छानुसार खरीदता है.

ये इंटरनेट प्लान कई रूप में उपलब्ध है जैसे 2G ,3G एवं 4G ,4G इंटरनेट भारत में अब तक का सबसे तीर्व गति से इंटरनेट सेवा देने वाला इंटरनेट है, जोकि युवाओ और व्यापर जगत में बहुत अधिक प्रचलित है।

Integrated Services Digital Network (ISDN):- ये Internet सेवा Analog Signals के स्थान पर Digital Signals ले जाने का काम करती है ये मुख्यता फ़ोन लाइन पर कार्य करती है।

Telephone Line (DSL) :- ये एक प्रकार Broadband Connection होता है, जोकि साधारण Land Line पर Internet Connection की सुविधा उपलब्ध कराता है. जिसके मुख्य उदहारण कुछ इस प्रकार है जैसेकि,

  • Aitel Broadband
  • BSNL Broadband
  • आदि

Wireless Internet Connection :- वायरलेस इंटरनेट कनेक्शन बिना किस Wire या तार की सहायता से Internet का Connection को उपलब्ध कराता है जोकि Radio Frequency पर आधारित होता है ,इस Internet का Network area बहुत सिमित होता है.

इंटरनेट कैसे काम करता है (How Does Internet Works)-

Internet ( Internet In Hindi )पर Computer पर एक दूसरे से जुड़े रहते है. ये ठीक उस ही प्रकार है जिस तरह हमारी Telephone line एक दूसरे से जुडी रहती है। हमें अपने Computer को Internet से जोड़ने के लिए अपनी Service Provider कंपनी से internet Connection लेना पड़ता है।

Internet In Hindi

भारत या अन्य किसी भी देश में जितने भी ISPs होते है वो Internet के माध्यम से जुड़े रहते है, और उपभोक्ता को Internet की सर्विस उपलब्ध कराते है. जिसके पश्चात उपभोक्ता आसानी से अपने किसी भी उपकरण जैसे Mobile, Laptop ,Computer आदि को Internet से जोड़ सकता है.

जब कोई भी उपभोक्ता किसी भी प्रकार के Internet से जुड़कर संपर्क बना लेता है तो Technical Language में उस उपभोक्ता को "Oniline " कहा जाता है।

इंटरनेट के उपयोग (Uses of Internet) –

शुरू-शुरू में इसका उपयोग खासकर वैज्ञानिको के द्वारा शोध कार्यो में ही किया जाता था. मगर धीरे -धीरे इसका विकास बहुत तेज गति से होता गया और Internet का कार्य क्षेत्र बहुत तीर्व गति से बढ़ गया।

आधुनिक युग में Internet हमारी जीवन शैली का एक महत्वपूर्ण अंग बन चूका है जिसके बिना जीवन की कल्पना करना बहुत कठिन होगा।

To Communicate :- जैसे की हम जानते है, इंटरनेट संपर्क साधने के लिए सबसे सुरक्षित और तेज माध्यम है. जिसकी सहायता से व्यक्ति कही से भी बैठकर सन्देश को एक स्थान से दूसरे स्थान तक भेज सकता है. सन्देश भेजने के प्रचलित माध्यम है ,email ,Facebook।, Whatsapp ,Twitter ,Telegram ,Instagram आदि है।

To Search Information(जानकारी खोजना):- Internet को विकसित करने का सबसे मुख्य कारण ये था क्युकी इसके माध्यम से सूचनाओं को एकत्र करना मुख्य उद्द्देश्यो में से एक था।

आजकल उपभोक्ता Internet का उपयोग सबसे अधिक Internet पे उपलब्ध जानकारी को एकत्र करने के लिए करते है। Internet के सबसे मुख्य सर्च इंजन है Google ,Yahoo ,एवं Bing.

For Entertainment (मनोरंजन के लिए) :- आजकल Internet मनोरंजन का एक बहुत ही प्रसिद्ध साधन बनकर सामने आया है. Internet पर ऐसे बहुत सारे प्लेटफार्म मौजूद है जिनपर ऐसे कंटेंट उपलब्ध है जो आपको मनोरंजन सामग्री प्रदान करते है इनमे मुख्यता ,वीडियो शेयरिंग प्लेटफार्म YouTube ,म्यूजिक शेयरिंग एप्लीकेशन Gana ,Wynk ,Saavan ,आदि है.

For Shopping (खरीदारी के लिए):- आजकल के आधुनिक समय में अधिकतर लोग अपने समय को बचाने के लिए Internet पर ही ऑनलाइन खरीदारी करना पसंद करते है. Internet पर ऐसे बहुत सारी E-commerce वेबसाइट उपलब्ध है.

जो उपभोक्ताओं को Online Shopping की सुविधा प्रदान करती है जैसे :- Flipkart Amazon ,Shoplclues आदि।

इंटरनेट के फ़ायदे और नुकसान (Internet Advantages and Disadvantages)

जिस तरह हर सिक्के के दो पहलु होते है उसी प्रकार इंटरनेट के भी दो पहलु है जो की दूसरे शब्दों में कहा जाए तो इसके फायदे भी है तो इसके नुक्सान भी है .

इंटरनेट के फायदे (Internet Advantages)

  • Internet के माध्यम से हम कही भी किसी भी समय Internet (Internet In Hindi) पर उपस्थित ऑनलाइन सेवाओं का लाभ आसानी से उठा सकते है.
  • अपने जीवन को सुचारु रूप से चालने में उपयोग होने वाले जरुरी दस्तावेज जैसे ,आधार कार्ड ,राशन कार्ड ,पैन कार्ड ,ड्राइविंग लाइसेंस को ऑनलाइन सेवा के माध्यम से प्राप्त कर सकते है.
  • पानी का बिल , बिजली का बिल ,तरीन का टिकिट ,जहाज का टिकट ,होटल की बुकिंग जैसी सेवाओं का भुगतान ऑनलाइन कर सकते है.
  • किसी भी विषय की जानकारी Internet के सर्च इंजन पर आसानी से एकत्रित कर सकते है.
  • रोज़ग़ार प्राप्त करने के लिए Internet एक बहुत ही अच्छा माध्यम साबिहो रहा है कोई भी व्यक्ति अपने कौशल के अनुसार Internet पर जॉब सर्च करके अपने लिए रोज़गार ढूंढ सकता है.

इंटरनेट के नुक्सान (Internet Disadvantages)

  • Internet का अनावश्यक उपयोग जरुरत से ज्यादा करने पर समय का दुरूपयोग अथवा समय की बर्बादी होती है.
  • जैसा की हम जानते है Internet की सुविधा प्राप्त करने के लिए हम सबको इसको शुल्क देना होता है इसीलिए इसके अधिक उपयोग से रुपयों की भी हानि होती है.
  • Internet के बहुत अधिक उपयोग होने कारण उपभोक्ताओ पर जहर समय साइबर हमले का खतरा बना रहता है जैसे की ,बैंकिंग अटैक ,वायरस हमला ,प्राइवेसी को खतरा ,क्रेडिट कार्ड एवं डेबिट कार्ड फ्रॉड आदि.
  • Internet पर उपलब्ध व्यक्ति पर विश्वाश नहीं किया जा सकता है ,इंटरनेट पर विश्वनीयता का अभाव होता है.

आज आपने क्या सीखा-

आज के इस पोस्ट के माध्यम से आपने सीखा की INTERNET क्या है ( Internet In Hindi ) ओर ये कैसे काम करता है. यदि आपको इस पोस्ट से जुड़े कोई भी सवाल है तो आप हमें बेझिझक पूछ सकते हैं। हम आपकी जरूर सहायता करेंगे।

error: Content is protected !!